CAA और CAB क्या है

अगर आप सोचते हैं की CAA और CAB दोनों अलग अलग है तो शायद आप गलत सोचते हैं असल में ऐसा है की ये दोनों एक ही है।

जब 12 दिसंबर 2019 को जब इस कानून को मंजूरी मिली थी तब इसका नाम CAB (Citizenship Amendment Bill) था जिसे हम हिंदी में नागरिकता संशोधन विधेयक भी कह सकते हैं।

what is CAA or CAB kya hai hindi

परन्तु जैसे ही इस पर अपने देश के राष्ट्रपति की मोहर लगी इसका नाम CAB से बदलकर CAA (Citizenship Amendment Act) रख दिया जिसे हम हिंदी में नागरिकता संशोधन अधिनियम भी कह सकते हैं।

तो अब आपको CAA के बारे में कुछ जानकारी तो मिल ही गयी होगी परन्तु क्या आप जानते है की CAA है क्या? या इस कानून का मतलब क्या होता हैं अगर नहीं तो जानने के लिए आगे पढ़िए।

CAA क्या है:-

CAA एक ऐसा कानून है जिसे 11 दिसंबर 2019 को भरत के संसद भवन में पेश किया गया था और 12 दिसंबर 2019 को इसे मंजूरी मिल गयी थी।

इस कानून का तब बहुत विरोध हुआ था क्योंकि काफी सारे लोग इसका सही मतलब नहीं समझ पाए थे और अभी भी नहीं जानते।

इस CAA Act के तहत अन्य देशों से आये गैर मुस्लिमो को भारत की नागरिकता नहीं देने का प्रावधान बनाया गया परन्तु जो मुस्लिम भाई पहले से भारत में रह रहे है उन पर इस Act का कोई असर नहीं होगाऔर वो आसानी से इस Act को ignore कर सकते हैं।

इस Act के तहत जो दूसरे देशों के मुस्लिम भाई 31 दिसंबर 2014 से पहले प्रवेश कर चुके हैं सिर्फ उन्हें ही भारत देश की नागरिकता मिलेगी।

इस Act के मुताबिक भारत में पहले से रहने वाले किसी भी धर्म के व्यक्ति की नागरिकता नहीं छीनी जाएगी इसका मतलब भारत में रहने वाले हमारा मुस्लिम भाइयो को इस Act से कोई खतरा नहीं है।

Final Words:-

मुझे लगता है की हमारा यह पोस्ट पढ़ने के बाद आप जान ही गए होंगे CAA और CAB क्या होता हैं और इस Act में क्या क्या कदम उठाए गए हैं और शायद अभी आपके मन में इसको लेकर कोई सवाल नहीं होंगे।

मुझे उम्मीद है की आपको हमारा यह पोस्ट “CAA और CAB क्या है” पसंद आया होगा और भी ऐसे रोचक Post पढ़ने के लिए यहाँ पर Click करे।

Related Posts